परीक्षाओं के दौरान जरूरी है टाइम मैनेजमेंट

Time-Management-During-Your-Exam

फरवरी-मार्च का महीना भारत में हाईस्कूल और हायर सेकंडरी के विद्यार्थियों के लिए  महत्वपूर्ण है, क्योंकि ये समय वार्षिक परीक्षाओं का है. जैसे ही वार्षिक परीक्षाएं नजदीक आती हैं, समय ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता है. जिंदगी में हर चीज और काम के लिए निर्धारित समय होता है. पढ़ाई-लिखाई के लिए भी एक समय होता है. यही कारण है, परीक्षा के दौरान टाइम मैनेजमेंट बहुत जरू री है.

सबसे जरू री काम क्या है?

स्टूडेंट लाइफ में देखा गया है, वो अपना अधिकांश समय दोस्तों के साथ बिताते हैं. कुछ लोग अपनी पढ़ाई-लिखाई का कीमती समय भी गप्पों में गंवा देते हैं. अगर आप जीवन में सफल, कामयाब इंसान बन गए, तो आपको कई अच्छे दोस्त मिलेंगे. इसके लिए तय करें कि सबसे जरू री काम क्या है? उस हिसाब से प्राथमिकता तय करें. दूसरे काम बाद में भी कर सकते है.

सोशल नेटवर्किंग साइट्स को ना 

no to social media

आजकल सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी लोग काफी समय बर्बाद कर हैं. एक सीमा तक तो इनका उपयोग ठीक है, लेकिन मुख्य काम नजरअंदाज करके इन्हें यूज कर रहे हैं, तो ये बुद्धिमानी नहीं है. ये सब बाद में भी कर सकते हैं, लेकिन पढ़ाई-लिखाई और परीक्षा का समय गुजर जाए, तो दोबारा वापस नहीं आएगा.

स्वास्थ्य का भी ध्यान

health care during exam

परीक्षा के दिनों में समय का उचित प्रबंधन जरू री है. पढ़ाई के साथ-साथ स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना चाहिए. उचित समय प्रबंधन परीक्षा में अच्छी सफलता दिलाने में सहायता करता है. मन को फ्रेश और एकाग्र रखने से पढ़ाई में लाभ मिलता है.

रिविजन के लिए समय

time for revision

रिविजन भी उतना ही जरू री है, जितना कि आगे की तैयारी करना. इसलिए दोहराने के लिए भी दिनचर्या में स्थान रखना चाहिए.

प्लानिंग करना

planning for exam

पहले पूरे दिन के वर्क की लिस्ट बन लें. यह काम मोबाइल, कम्प्यूटर के टूडू लिस्ट में भी कर सकते हैं. जब आप की पूरी तैयार हो जाएं, तब महत्वपूर्ण काम पहले चार भागों में बांट लें, जैसे सुबह, दोपहर, शाम और रात में, जिसे आप पहले निपटना चाहते हैं, हर एक भाग के ऊपर रखें, उसके बाद लिस्ट सेव कर रख लें. टाइम मैनेजमेंट चार्ट, स्मार्ट कार्ड का यूज भी कर सकते हैं.

एनालिसिस

exam analysis

जब आप सब काम कर चुके होते हैं, तब भी बहुत कुछ रह जाता है, जैसे अपने जैसा काम सोचा होगा, वो नहीं हुआ या जल्दबाजी में काम बिगड़ गया आदि. अब टाइम टेबल का एनालिसिस करने की जरूरत है. रात को सोने से पहले टाइम टेबल का एनालिसिस करें, जिससे आपको पता चलेगा कि आप कहां अपना समय बर्बाद कर रहे हैं और उसका सदुपयोग कर सकते हैं.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *