X Symbol On Train
X Symbol On Train

वैसे तो बचपन से लेकर आज तक आप सबने ना जाने कितनी बार ट्रेन से यात्रा की होगी. इसी यात्रा के दौरान आपने ट्रेन के बाहर और अंदर कई तरह के साइन भी देखे होंगे. एक ऐसा ही निशान ट्रेन के पीछे भी होता है एक्स का निशान. जिसे देखकर आप सबके मन में कभी ना कभी यह सवाल तो ज़रूर आया होगा कि आखिर ट्रेन के आखिरी डिब्बे के पीछे ये एक्स का साइन क्यों बना रहता है ?

दरअसल, ट्रेन के आखिरी डब्बे पर बना क्रॉस का निशान सिर्फ यूं ही नहीं बना होता बल्कि इसके पीछे एक बहुत बड़ा रेलवे का मिशन है. यह मिशन दुर्घटना से बचाने का है. बता दें कि भारत में चलने वाली पैसेंजर ट्रेन के पीछे यह एक्स का चिह्न अंतिम बोगी पर पीले या सफेद रंग से बना हुआ होता है. ट्रेन के आखिरी डिब्बे में क्रॉस का निशान इसलिए होता है ताकि यह पता लगाया जा सकें कि वह उस ट्रेन का आखिरी डिब्बा है. यह एक्स का साइन  रेलवे कर्मचारियों को यह संकेत देता रहता है कि यह ट्रेन का आखिरी डिब्बा है और अगर किसी ट्रेन के पीछे यह निशान ना हो तो इसका अर्थ यह होता है कि ट्रेन आपातकालीन स्थिति में है. मतलब कि यहां कुछ गड़बड़ है. दरअसल अगर कोई डिब्बा ट्रेन से अलग हो जाए तो उससे दुर्घटना होने के चांस रहते हैं इसलिए दुर्घटना को रोकने के लिए यह निशान बनाया गया है.

रेलवे क्रॉसिंग पर हरी झंडी दिखाता हुआ गार्ड भी ट्रेन को हरी झंडी नहीं दिखाता बल्कि वह इस निशान को देखता है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सकें की ट्रेन के सभी डिब्बे जुड़े हुए हैं. सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि रात के वक्त घने अंधेरे में जब यह क्रॉस का निशान दिखाई नहीं देता तो क्रॉस के निशान के नीचे एक लाल बत्ती लगी होती है जिसे देख कर भी रात में या अंदाजा लगाया जाता है. ऐसे में अब आप जब भी इस निशान को देखेंगे तो आप आसानी से समझ जाएंगे कि य यह रेल का आखिरी डिब्बा है या नही.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *