फीफा वर्ल्ड कप : अपनी गुंडागर्दी के चलते इन 5 महिलाओं से खतरा, लगा है बैन

russia banned this hooligans from football stadium
russia banned this hooligans from football stadium
russia banned this hooligans from football stadium

रूस में जारी फीफा वर्ल्ड कप को लेकर दुनिया भर के फुटबॉल प्रेमियों का उत्साह देखते ही बनता है. जहान हर किसी की नजरें इन दिनों रूस की तरफ हैं वहीं चार फुटबॉल फैन महिलाएं ऐसी भी हैं जिन पर इस ईवेंट के किसी भी मैच में आने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. असल में ये चार महिलाएं फुटबॉल मैचों के दौरान अपनी गुंदागर्दी के लिए कुख्यात हैं.

कात्या सकलावाकिचयूस : 29 वर्षीया कात्या पर एक साल का बैन है, हालांकि कोर्ट ने उनके जुर्म का खुलासा नहीं किया है.

कात्या सकलावाकिचयूस
कात्या सकलावाकिचयूस

डायना इवानोवा: डायना ने पिछले साल अक्तूबर में एक फुटबॉल मैच के फाइनल में शराब पी थी और फिर नशे की हालत में लोगों के साथ मिलकर स्टेडियम में आग लगाई थी. उन्हें दो साल के लिए प्रतिबंधित किया गया है.

डायना इवानोवा
डायना इवानोवा
केसेनिया फ्रोलोवारूस की गृह मंत्रलय की प्रतिबंध सूची में 27 वर्षीया सेनिया भी शामिल हैं. सेनिया का बैन अगले सप्ताह बुधवार को समाप्त होना है और तब ही वह कानूनी रूप से रूस के स्टेडियम में दाखिल हो सकेंगी.
केसेनिया फ्रोलोवा
केसेनिया फ्रोलोवा

गलिना बेबेश्को :  52 साल की गलिना को एक साल के लिए बैन किया गया था.

गलिना बेबेश्को
गलिना बेबेश्को

अनसतासिया लुकोम्सकाया : 24 साल की अनसतासिया भी बैन लिस्ट में शामिल थीं, लेकिन पिछले महीने उस पर से बैन हटा लिया गया. अब वह रूस में स्टेडियम में मैच देख सकती हैं.

अनसतासिया लुकोम्सकाया
अनसतासिया लुकोम्सकाया

बता दें कि यह पांच महिलाएं उन 456 रूसी लोगों की लिस्ट में से हैं, जो फुटबॉल में अपराध के कारण बैन हो चुकी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *