Breaking News
Home / Bizarre News / पाकिस्तान के इस मंदिर में हुआ था शिव का देवी पार्वती के संग विवाह

पाकिस्तान के इस मंदिर में हुआ था शिव का देवी पार्वती के संग विवाह

Lord Shiv Temple In Pakishtan
Lord Shiv Temple In Pakishtan

हिंदू देवी देवताओं में भगवान शिव की एक अलग ही मान्यता है. यहीं वजह है कि भारत के कोने कोने में भगवान शंकर के कई प्रसिद्ध मंदिर हैं और इन मंदिरों का अपना एक प्राचीन इतिहास भी रहा है. आज हम आपको इस लेख के जरिए एक ऐसे ही शिव मंदिर की महिमा के बारे में बताएंगें, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगें.

दरअसल प्राचीन शिव का ये मंदिर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के चकवाल जिले में स्थित है. यह पाकिस्तान से लगभग 40 किमी दूर है और लाहौर एवं इस्लामाबाद मोटरवे के ठीक बगल में साल्ट रेंज की मशहूर पहाड़ियों पर स्थित है.  ये मंदिर प्राचीन समय में संगीत, कला और विद्या का भी एक प्रसिद्ध केंद्र था और यहाँ एक अनोखा सरोवर भी है, जिसका पानी दो रंग का है. अधिक गहराई वाले स्थान का पानी नीला और कम गहरे वाले स्थान का पानी हरा है. धर्म ग्रंथों के अनुसार,सती के प्राण त्यागने के बाद महादेव जब सती का शव लेकर इधर उधर भटक रहे थे तब उनकी आंखों से दो बूंद आंसू गिर थे. आंसू की एक बूंद कटास नाम के इस स्थान पर टपका जबकी दूसरी बूंद राजस्थान के अजमेर में गिरी. जहां आज पुष्करराज तीर्थ स्थान मौजूद है और कटास में सरोवर बन गया.शिव का देवी पार्वती मंदिर

मान्यताओं के मुताबिक इस स्थान को शिव का नेत्र भी कहा जाता है. वहीं, पाकिस्तान स्थित कटासराज तीर्थ स्थान के संबंध में यह भी मान्यता है कि यहां पर भगवान शिव का देवी पार्वती के संग विवाह हुआ था. माना जाता है कि यहां पहले मंदिरों की श्रृंखला हुआ करती थी, लेकिन अब सिर्फ चार ही मंदिरों के अवशेष बचे हैं, जिनमें भगवान शिव, राम और हनुमान के मंदिर हैं. इसके अलावा यहां पर बौद्ध स्तूप एवं जैन मंदिरों के भी अवशेष देखने को मिलते हैं. यहां सिख धर्म से जुड़े स्थल भी हैं और माना जाता है कि सिखों के गुरु नानकदेव और नाथ सम्प्रदाय के संस्थापक गोरखनाथ भी इस स्थल पर आए थे.

Hindu Temple In Pakistan

About Funduc

Check Also

Kangana Ranaut Affairs

अफेयर्स को लेकर चर्चा में रहती हैं कंगना राणावत

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना राणावत आज इंडस्ट्री की एक बड़ी एक्ट्रेस हैं. उनका प्रोफेशनल करिअर ऊँचाइयों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *