लुटरू महादेव
लुटरू महादेव

देशदुनिया में ना जाने ऐसे कितने ही मंदिर और मान्यताएं मौजूद है जिसके बारें में आपने शायद ही सुना होगा. वैसे तो आप सब ने यह सुना ही होगा कि भगवान शिव को खुश करने के लिए उनके भक्त भांग, धतुरा चढ़ाते हैं. लेकिन आज हम आपको भगवान शिव के एक ऐसे अनोखे मंदिर के बारे में बताएंगें, जहां भोलेबाबा को भांग और धतुरा नहीं बल्कि सिगरेट पीना पसंद है. सुनने में थोड़ा सा अजीब है लेकिन यह सच है.

Shiva Temple Where Lord Shiva smoke cigarettes
Shiva Temple Where Lord Shiva smoke cigarettes

दरअसल, जिस मंदिर की हम बात कर है वह आज से करीबन हजारों साल पहले 1621 में हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के अर्की में बनाया गया था. ये मंदिर दुनियाभर में काफी प्रसिद्ध है और इस मंदिर को लुटरू महादेव के नाम से जाना जाता है. इस मंदिर की खास बात यह है कि यहां शिवभक्त रोजाना जल, धतुरा या भांग चढ़ाने नहीं बल्कि महादेव को अर्पित करने के लिए अपने साथ सिगरेट लाते है. सिर्फ इतना ही नहीं, भगवान शिव के इस अनोखे मंदिर में जब भगवान शिव को सिगरेट अर्पित की जाती है, तो वह चमत्कारिक रूप से अपने आप ही सुलगने लगती है. जिसे देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि भगवान शिव इसे बड़े चाव सी पी रहे है. वैसे, भोलेबाबा के इस दृश्य को देखने के लिए दूरदूर से लोग यहाँ आते है. बता दें, भगवान शिव के इस चमत्कार को देखते है, मौके पर मौजूद भक्त जमकर शिव भगवान के जयकारे लगाते हैं.

यहां भक्तों के हाथों से सिगरेट पीते हैं महादेव
यहां भक्तों के हाथों से सिगरेट पीते हैं महादेव

बता दें, लुटरू महादेव के इस मंदिर में भगवान शिव के शिवलिंग में कई जगहों पर गड्ढे बने हुए है, जिसमे भक्त सिगरेट फंसा देते है और ये सिगरेट अपने आप सुलगने लगती है. माना जाता है कि यहां सिगरेट चढ़ाने से भक्त की हर मनोकामना पूरी होती है. वहीं, इस मंदिर में बनी में बनी गुफाएं भी अद्भुत हैं और यहां पर प्राकृतिक शिवलिंग के साथ-साथ कई अनोखी आकृतियां बनी हुई हैं जो यहां आने वाले भक्तों को अपनी तरफ आकर्षित करती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *