Red Tea

भारत में ज्यादातर लोगों के दिन की शुरूआत चाय से ही होती है. ऐसे में अगर सुबह-सुबह अदरक वाली चाय गर्मागर्म कुल्हड़ मे मिल जाएं तो सोने पर सुहागा. चाय पीने से न केवल  तन-मन की थकान छूमंतर होती है बल्कि शरीर में चुस्ती फुर्ती भी आ जाती है. ऐसे में अगर आपको भी चाय से बेहद प्यार है तो चलिए जानते चाय से जुड़ी कुछ रोचक बातें. जिसके बारें में शायद ही आप जानते हो

चाय की खोज चीन में 2737 B.C.में अचानक से हुई थी. दरअसल चीन के  शासक ‘शैन नुंग’ के उबलते पानी में गल्ती से चाय की सूखी पत्तियां गिर गई और पानी का रंग बदल गया. लेकिन, जब राजा ने इस पेय को पीया तो उन्हें उसका स्वाद और खुशबू बेहद पसंद आई. तब से ही चीन के लोगों ने सबसे पहले चाय पीना शुरू किया और वहां ब्लैक टी को रेड टी कहा जाता है.black tea

  • पानी के बाद चाय ही एक ऐसा पेय पदार्थ है, जो दुनियाभर में सबसे ज्यादा पिया जाता है. भारत में 1835 से चाय पीने की शुरुआत हुई.
  • दुनियाभर में 1500 से अधिक प्रकार की चाय है. जिसमें काली, हरी, सफेद और पीली चाय काफी फेमस है.
  • चाय अफगानिस्तान और ईरान का नेशनल ड्रिंक है.
  • चाय अगर अत्यधिक उबाली गई हो तो अधिक हानिकारक होती है. वहीं, स्ट्रांग चाय पीने से अल्सर होने का ख़तरा बढ़ जाता है.
  • खाली पेट ब्लैक टी पीने से न केवल पेट फूलता है बल्कि एसिडिटी और अपच भी हो सकती है.
  • साल 1904 में एक ब्रिटिश व्यक्ति Richar Blechynden के द्वारा आईज़ टी की खोज़ की गई थी.
  • पूरी दुनिया में चीन के बाद भारत सबसे ज्यादा चाय का उत्पादन करता है और भारत में इसका उत्पादन मुख्य रूप से असम में होता है.
  • बता दें, चाय में एक ‘एल-थेनाइन’ नाम का इंग्रेडिएंट होता है, जो ब्रेन पॉवर को बढ़ाने में मदद करता है, स्ट्रेस कम करता है, और आपको तरोताज़ा रखता है.
  • अगर चाय की पत्तियों को कुछ देर पानी में भिगोकर रख दें और उससे आने वाली महक को घर के कोने-कोने में फैला दी जाएं तो ये मच्छरों को भगाने में बेहद मददगार साबित होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *