diabetes

आप भले ही कितने भी स्वस्थ क्यों न हों लेकिन कभी न कभी आपको थकान महसूस होती है.  इसका कारण बहुत ज्यादा काम करना भी हो सकता है. हालांकि, अगर आप ज्यादा तनाव में रहते हैं तो भी आपको थकान महसूस हो सकती है लेकिन अगर आप हमेशा थका हुआ महसूस कर रहे हैं तो इसका मतलब आप बीमार हैं.

आपको कई छोटी या बड़ी मांसिक परेशानी के कारण भी थकान हो सकती है. या किसी बड़ी बीमारी जैसे ह्रदय रोग, कैंसर या डायबिटीज़ में भी मरीज़ को थकान महसूस होने लगती है. अगर आपको भी हमेशा थकान महसूस होती है लेकिन इसका कारण आप नहीं समझ पा रहे हैं तो आपको बता दें, इसका कारण डायबिटीज हो सकता है.

एक स्टडी के मुताबिक जब किसी इंसान को दिन के एक ही समय पर थकान महसूस हो तो ये मधुमेह का लक्षण हो सकता है. खासतौर पर अगर उसमें मधुमेह के अन्य लक्षण भी नजर आ रहे हैं तो इसकी संभावना और भी बढ़ जाती है. चलिए आज आपको बताते हैं कि मधुमेह और थकान का क्या संबंध है.

मधुमेह क्या है: थकान और डायबिटीज के बीच के संबंध को जानने से पहले आपको बता दें कि यह एक मेटाबॉलिक विकार है जिसमें शरीर में ब्लड शुगर का स्तर सामान्य से काफी ज़्यादा बढ़ जाता है या घट जाता है. ये सब इंसुलिन हार्मोन की अस्थिरता के कारण होता है. इसका इलाज संभव है लेकिन उससे पहले आपको इसके लक्षणों को पहचानना होगा और नियमित दवाएं और जीवनशैली में बदलाव लाना होगा.

दिन में थकान का मतलब है मधुमेह!: जैसा कि हमने पहले भी बताया कि जब कोई इंसान मधुमेह से ग्रस्त होता है तो उसका ब्लड शुगर या तो तेजी से बढ़ जाता है या घट जाता है. अगर आपको रोजाना दिन में एक ही वक्त जैसे 1 से 4 के बीच ही थकान महसूस होती है. खासतौर पर खाना खाने के बाद तो यह मधुमेह का संकेत हो सकता है.

इसका कारण यह है कि खाना खाने के बाद शरीर में शुगर की मात्रा अचानक बढ़ जाती है. इस शुगर को पचाने के लिए शरीर को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है क्योंकि मधुमेह के मरीजों में इंसुलिन हार्मोन कम होता है. इस वजह से मरीज़ को बहुत थकान महसूस होती है.

diabetes

जिन लोगों को मधुमेह नहीं होता है उनमें ब्लड शुगर लेवल दिन के वक्त कम रहता है. हालांकि, सामान्य रूप से किसी भी व्यक्ति का ब्लड शुगर 90 से 120 के बीच रहना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *