नेल पॉलिश लगाने से हो सकती है कैंसर, नर्वस ब्रेकडाउन जैसी बिमारियां

Nail Polish Side Effect

Harmful Effects of Nail Polish

Nail Polish Side Effect
Img Source : wittyfeed

बात खूबसूूरत दिखने की हो तो कई चीजें बिल्कुल पक्की होती हैं. नेलपॉलिश भी उनमें से एक है. लेकिन क्या आपको पता है, कि ब्यूटी के लिए रोज की जरूरत बन चुकी नेलपॉलिश आपको किस तरह खतरे में डाल रही है. क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की कि आपकी नेलपॉलिश में किन खतरनाक केमिकल्स का इस्तेमाल हुआ है.

आप जब नेलपॉलिश ट्राय करती हैं आपका ध्यान उस रंग पर जाता है जो आपके हिसाब से सबसे बढ़िया लगेगा परंतु उसे तैयार करने में इस्तेमाल किए गए केमिकल से आप अंजान रहना पसंद करती हैं. रिसर्चस में सामने आ चुका है कि नेलपॉलिश से उसे लगाने के कई घंटों के बाद नुकसान हो सकता है.

यह बात तो सभी जानते हैं कि नेल पेंट के खास प्रकार के कैमिकल होते हैं, जो नाखूनों पर लगाने से हानिकारक प्रभाव देते हैं. लेकिन ये कैमिकल स्वास्थ्य को बड़े रूप से कैसे प्रभावित करते हैं, आइए जानते हैं…

Nail Polish Toxic
Nail Polish Toxic

कैंसर की संभावना

विभिन्न प्रकार के रिसर्च से यह बात सामने आई है कि नेल पेंट लगाने से खतरनाक रोग हो सकते हैं, जिनमें से एक कैंसर भी है. नेल पॉलिश में फॉर्माएल्डिहाइड नाम का केमिकल भी पाया जाता है जिसमें कार्सेनॉजिक एजेंट्स होते हैं जो कैंसर के लिए जिम्मेदार होते हैं.

Nail Polish Cause Health issues
Nail Polish Cause Health issues

नर्वस सिस्टम पर होता है इफेक्ट

रिसर्चर्स के अनुसार नेल पेंट में स्मूथ फिनिशिंग के लिए टालुइन नाम का एक कैमिकल मिलाया जाता है. ये कैमिकल आमतौर पर कार में र्इंधन डालने वाले गैसोलीन में इस्तेमाल किया जाता है. जब यह कैमिकल हमारे नाखूनों के संपर्क में आता है, तो धीरे-धीरे नाखूनों की कोशिकाओं से निकलता हुआ शरीर की अन्य कोशिकाओं से भी अपना संपर्क बना लेता है. फलस्वरूप ये कैमिकल नर्वस सिस्टम और दिमाग के साथ-साथ रिप्रोडक्टिव सिस्टम को भी प्रभावित करता है.

Nail Polish Can Affect Nervous System
Nail Polish Can Affect Nervous System

डाइब्यूटाइल पैथेलेट से रिप्रोडक्टिव सिस्टम को नुकसान

अब बताते हैं नेल पेंट की दूसरी ऐसी चीज, जो हमें नुकसान पहुंचा रही है. ये है नेल पेंट्स को लचीला बनाने के लिए इस्तेमाल किया डाइब्यूटाइल पैथेलेट पदार्थ. यह रसायनिक पदार्थ महिलाओं के रिप्रोडेक्टिव ट्रैक्ट को नुकसान पहुंचाता है. यूरोप के कई देशों में इस कैमिकल के इस्तेमाल पर पाबंदी भी है.

 स्किन कैंसर को खतरा

शोधकतार्ओं ने जब नेलपॉलिश पर रिसर्च किया तो पाया, इसका इस्तेमाल करने से स्किन कैंसर भी हो सकता है. क्योंकि नेल पॉलिश में एक खास प्रकार का जैल मिलाया जाता है, जो सूर्य की खतरनाक अल्ट्रावायलट किरणों को सोख लेता है और यही किरणें कैंसर को जन्म देती हैं.

Nail Polish Cause Skin Disease
Nail Polish Cause Skin Disease

सुखने लगता है रक्त

इसलिए कहा जाता है कि अगर नेल पेंट का इस्तेमाल किया भी जा रहा हो, तो कम से कम उसे जल्द उतार देना चाहिए. नाखूनों तक सूर्य की किरणों का पहुंचना बेहद आवश्यक है. अन्यथा इस हिस्से का रक्त सूखने लगता है और यह एक खतरनाक संकेत है.

फेफड़ो पर भी पड़ता है प्रभाव

अब अगली जिस चीज का इस्तेमाल नेल पेंट बनाने के लिए किया जाता है, उसे जान आप और भी डर जाएंगे. तो आपको बता दें कि नेल पॉलिश बनाने में स्पिरिट का भी इस्तेमाल किया जाता है जो फेफड़ों को बुरी तरह से प्रभावित करता है. लेकिन यह स्पिरिट फेफड़ों तक पहुंचता कैसे है, क्या जानते हैं आप? दरअसल नेल पेंट से आने वाली तेज महक इसी स्पिरिट के कारण होती है. जब हम नेल पेंट लगा रहे होते हैं तब यह महक सांस द्वारा फेफड़ों तक पहुंचती है. यह तेज महक अधिक नुकसान ना पहुंचाए, इसके लिए नेल पॉलिश लगाते समय हमेशा पंखा बंद कर देना चाहिए ताकि वह महक घर के पूरे वातावरण में ना मिल जाए.

Not To Use Nail polish
Not To Use Nail polish

नेलपॉलिश के खतरनाक असर से बचने के लिए इसे खरीदते समय लो रेंटिंग टॉक्सिटी (0-2) वाला ही प्रोडक्ट खरीदें. अगर आपको कोई रेटिंग नहीं दिखती तो प्रोडक्ट का लेबल चेक करें और टालुइन, फॉरमल्डिहाइड, डाइब्यूटाइल पैथेलेट जैसे खतरनाक तत्वों से बचें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *