आसान नहीं है कोर्स और कॉलेज के बीच चयन

कोर्स या कॉलेज : किसको चुनना चाहिए?

College Or Course
College Or Course

अक्सर यूनिवर्सिटी में एडमिशन के दौरान बहुत से छात्र एक दुविधा में उलझे रहते हैं. वह असमंजस में होते हैं कि कटआॅफ में वह अच्छे कॉलेज को चुनें या फिर कोर्स को. क्योंकि उनके उतने नंबर नहीं होते कि मनपसंद कॉलेज में मनपसंद कोर्स मिल जाए. इसके अलावा कई बार यूनिवर्सिटीज की कटआॅफ भी इतनी हाई रहती है कि 95 फीसदी से ऊपर एग्रीगेट होने पर भी विद्यार्थियों को अपने ड्रीम कॉलेज में उस कोर्स में एडमिशन नहीं मिल पाता जिसमें उसका इंटरेस्ट होता है. ऐसे में ये सवाल उठता है कि किसका चयन किया जाए, कॉलेज या कोर्स का?

छात्रों की प्राथमिकता पर निर्भर

बहुत से एक्सपर्ट्स ये मानते हैं कि कॉलेज और कोर्स का चयन पूरी तरह छात्र की प्राथमिकता पर निर्भर करता है. अगर छात्र सिर्फ डिग्री हासिल करना चाहता है तो उसे अच्छे और प्रतिष्ठित कॉलेज को महत्व देना चाहिए. लेकिन अगर छात्र किसी विशेष फील्ड में जाना चाहता है और उसी में अपनी करियर बनाना चाहता है तो उसे कोर्स को महत्व देना चाहिए.

College Or Course Choice Of Student
College Or Course Choice Of Student

दिलचस्पी किसमें है

कोर्स को तवज्जो देने की वकालत करने वाले एक्सपर्ट्स ये कहते हैं कि विद्यार्थियों को अपनी दिलचस्पी के मुताबिक कोर्स चुनना चाहिए. उनके अनुसार कॉलेज की ब्रांड वेल्यू मायने रखती है लेकिन सही कोर्स चुनना उससे कहीं ज्यादा जरूरी है. कॉलेज सही हो, और आपका कोर्स गलत हो तो ये आपके करियर के लिए नुकसानदेह साबित होगा. अगर कोर्स सही हो और कॉलेज का चयन गलत, तो आपके पास मेहनत करके माइग्रेशन का आॅप्शन रहता है.

interest in career choices compressor
Source : yourdost

दबाव से बचे 

कई बार छात्र अपनी और अपने परिवारवालों की सामाजिक प्रतिष्ठा और फैमिली के दबाव में आकर कोर्स से समझौता करते हैं और नामी कॉलेज चुन लेते हैं. लेकिन उन्हें ऐसा करने से बचना चाहिए. उन्हें दूरदर्शिता दिखाते हुए अपने लक्ष्य को ध्यान में रखना चाहिए और इसी हिसाब से चयन करना चाहिए.

Dont Decide Career Path Under Pressure
Dont Decide Career Path Under Pressure

प्लेसमेंट के लिए अच्छा कॉलेज जरूरी

कोर्स से ज्यादा अहमियत कॉलेज को देने की बात कहने वाले विशेषज्ञ मानते हैं कि ये कॉलेज प्लेसमेंट का जमाना है जो कि अच्छे कॉलेज से ही मुमकिन है. कॉलेज प्रतिष्ठित होगा तो प्लेसमेंट की संभावना बढ़ जाती है. कई बार बहुत से छात्र 12वीं पास होने के बाद भी अपने करियर को लेकर फोकस नहीं रहते, ऐसी स्थिति में उन्हें अच्छे कॉलेज की जरूरत होती है,वैसे भी पोस्ट ग्रेजुएशन में वो अपनी पसंद के मुताबिक कोर्स चुन सकते हैं.

Placement
Source: republicanaradio

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *