नवाबी अंदाज में यहां मिलेगा आपको असल मुगलई खाने का स्वाद

5 Best Mughlai Restaurants
5 Best Mughlai Restaurants
5 Best Mughlai Restaurants
मुगलई भारत में 1426 से 1857 तक मुगल शासन के परिणामस्वरूप आया है. उस समय के भोजन को समृद्ध तरीके से खुशबूदार मसालों, ड्रायफु्रट्स और सूखे मेवे के साथ पकाया गया था. मुगलई खाना खास तरह के गर्म मसाले से तैयार होते हैं, जिनसे व्यंजन का स्वाद और भी ज्यादा लजीज हो जाता है.  मुगलई उत्तर भारत और उत्तरी दिल्ली जैसे स्थानों पर उत्तरी भारत में इस्तेमाल की जाने वाली एक पाक शैली का प्रतिनिधित्व करती है. मुगलई भोजन दिल्ली के अलावा  लखनऊ, आगरा, भोपाल, कोलकाता और हैदराबाद जैसे शहरों में बड़े पैमाने पर जायके को प्रभावित करते हैं.
दिल्ली

दिल्ली की चारदीवारी के भीतर गलियों में प्राचीन खान-पान से लेकर आज के चमक बिखेरते, पांच-सितारा होटलों में स्थित विशेषज्ञता प्राप्त रेस्तरां, दिल्ली को पकवानों का स्वर्ग बनाते हैं. चटोरों के लिए, दिल्ली मुगलई पकवानों का पर्यायवाची है. करीम होटल (जामा मस्जिद और निजामुद्दीन दोनों जगह) में श्रेष्ठ मुगलई पकवानों का आनंद लिया जा सकता है, जहां के खाने, मुगलों के काल के व्यंजनों से मेल खाते हैं और जहां पीढ़ी-दर-पीढ़ी खानसामों के पाककला के रहस्यों को गुप्त रखा जाता है.

Gulati Best Mughlai Food Restaurants In Delhi
Gulati Best Mughlai Food Restaurants In Delhi
महंगे पकवानों की श्रंखला में दिल्ली का आंगन (हयात रीजेंसी), दरबार (अशोक होटल) और कॉरबेट्स (क्लेरिरिज) जैसे कई विकल्प हैं, जबकि गुलाटी रेस्तरां (पंडारा मार्किट), अंगीठी (एशियाई खेलगांव) और देगची (रीगल बिल्डिंग) बजट के अनुकूल सेवा प्रदान करते हैं. बुखारा (मौर्य शेरेटन), फ्रंटियर (अशोक होटल) और बलूची (दि हिल्टन) में उत्कृष्ट मुगलई पकवान उपलब्ध हैं. हौज खास विलेज में जाकर कबाब, रास चिकन, रास चिकन टिक्का, कश्मीरी गुच्ची, शोरबा और लाहौरी मटन का स्वाद ले सकते हैं. वहीं आप चांदनी में परांठेवाली गली में और जामा मस्जिद बाजार में जाकर वेज और नॉनवेज जायकों का मजा ले सकते हैं.
लखनऊ 

नवाबों का शहर लखनऊ अपने शाही अंदाज और नजाकत के लिए मशहूर है. साथ ही लखनऊ के जायकों के लिए दीवानगी भी कम नहीं है. लखनऊ का रोटी बाजार अपने यहां की खास तरह की रोटियों और बिरयानी के लिए मशहूर है. अकबरी गेट से नक्खास चौकी के पीछे तक यह बाजार है, जहां फुटकर और सैकड़े के हिसाब से शीरमाल, नान, खमीरी रोटी, रूमाली रोटी, कुल्चा, लच्छा परांठा, धनिया रोटी और तंदूरी परांठा जैसी कई अन्य तरह की रोटियां मिलती हैं.  इसके अलावा आप अमीनाबाजार, हजरतगंज चौक के आसपास गिलोटी कबाब, बोटी कबाब, टूंडे कबाब, मटन रोगन जोश, लखनवी बिरयानी, पाया निहारी का मजा भी ले सकते हैं.

Best Mughlai Food Restaurants In Lucknow
Best Mughlai Food Restaurants In Lucknow
हैदराबाद 

निजामों का शहर हैदराबाद अपने कल्चर और खाने-पीने के पकवानों के लिए जाना जाता है. निजामों के इस शहर हैदराबाद में मुगलई व्यंजन भी  आपको यहीं मिलेंगे. हांडी का गोश्त, काली मिर्च का मुर्ग, जाली के कबाब, सीक व शामी कबाबों का जायका लेने लोग दूर-दूर से यहां आते हैं. गोश्त के साथ रुमाली या तंदूरी रोटी खाना आम है, पर खमीरी शीरमल के साथ गोश्त का मजा बिलकुल अलग होता है.  आप यहां पर चारमीनार रोड़ के पास हैदराबादी बिरयानी, बोटी कबाब, गोश्त पसंदा जैसे जायकों का मजा ले सकते हैं. आपको यहां के रेस्टोरेंट के साथ स्ट्रीट फूड के जायकों में भी खास बात लगेगी.

Mughlai Food In Hyderabad
Source blog swiggy
आगरा

दुनिया के सबसे बेहतर परांठे आगरा में बनाये जाते हैं. जब आगरा मुगलों की राजधानी बना तो परांठे उनके भोजन का अभिन्न अंग बन गये और उनके मनपसंद तरीके से बने परांठों को मुगलई परांठा कहा जाना लगा. मुगलई फुड जैसे मुगलई चिकन बिरयानी, मुर्ग मखनी, रोगन जोश, पेशावरी तवा चिकन भी यहां के मुगलई जायको में शामिल है.

Peshwari Mughlai Food In Agra
Peshwari Mughlai Food In Agra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *