big bosss 12 Nomination

भारत में सबसे अधिक देखे जाने वाले रियलिटी शो बिग बॉस के घर में हर साल 12 प्रतिभागी आते हैं. लेकिन हर सीज़न बिग बॉस के घर में एक ही दमदार आवाज़ सुनाई देती है. जो घर में मौजूद कंटेस्टेंट से टास्क कराती है, उनको सजा सुनाती है, कालकोठरी में भेजती है और ज़रूरत पड़ने पर उन सभी प्रतिभागियों को फटकार भी लगाती है. बता दें, ये आवाज़ बिग बॉस की है जिन की आवाज़ शो में सुनाई तो देती है लेकिन वो खुद इस शो दिखाई नही देते, वैसे न दिखने पर भी उनकी आवाज़ उनकी मौजूदगी हमेशा घरवालों को करवाती रहती है. वहीं, इस शो को देखने वाले हर शख्स के मन में इस रूआबदार और बुलंद आवाज़ वाले इंसान का न केवल चेहरा देखने की इच्छा होती है बल्कि ये जानने कि जिज्ञासा भी बनी रहती है कि आखिर ये आवाज़ किसकी है. क्योंकि, अब लोग बिग बॉस की आवाज़ से वाकिफ़ तो है लेकिन उस शख्स से नहीं. वैसे अगर अभी तक आप ये नही जान पाएं कि बिग बॉस में आखिर ये आवाज़ किसकी है ?

तो चलिए आज हम आपको बताते है कि, कौन है बिग बॉस के घर का असली बिग बॉस जिसकी एक आवाज़ ‘बिग बॉस चाहते हैं…’ से आज भी सभी कंटेस्टेंट उठ कर खड़े हो जाते है.

दरअसल, इस आवाज़ के मालिक 50 साल के मुंबई में रहने वाले वॉइस ओवर आर्टिस्ट अतुल कपूर है. ये सोनी टीवी से साल 2003 में जुड़े और बिग बॉस के पहले सीज़न यानि साल 2006 में इन्होनें इस शो को बिग बॉस के रूप में अपनी आवाज़ दी. हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में अच्छी पकड़ होने की वजह से अतुल अंग्रेजी फिल्मों को भी हिंदी में भी डब करते हैं. वहीं, आयरन मैन’, ‘आयरन मैन-2’, ‘आयरन मैन-3’, ‘द एवेंजर्स’, ‘कैप्टन अमेरिका’ जैसी कई हॉलीवुड फिल्मों के हिंदी वर्जन में उनकी आवाज़ को बतौर सुपरहीरो के रूप में सुना जा सकता है.

बॉलीवुड के अलावा अतुल हॉलीवुड की कई फिल्मों, रेडियो और टीवी प्रोग्राम्स में भी अपनी आवाज़ दे चुके है. बता दें, अतुल पहले एक रेडियो चैनल के लिए काम करते थे और वहीं से ‘बिग बॉस’ के आयोजकों ने उन्हें इस शो के लिए चुना था. उनकी आवाज़ इतनी दमदार है कि वो आज भी बिना किसी गल्ती के बिग बॉस के घर के अंदर और बाहर दर्शकों को बिना नज़र आए ही एंटरटेन कर रहे हैं.

सूत्रों की मानें तो , हर साल बिग बॉस का नया सीज़न शुरू होने से लगभग एक महीने पहले ही अतुल कपूर बिग बॉस के सीक्रेट रूम में आ जाते हैं. जहां अतुल भी बाकि घर के सदस्यों की तरह ही रहते है. इस दौरान न तो उनके पास मोबाइल फ़ोन होता है और न ही वो अपने घरवालों और दोस्तों से बात कर सकते है. सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि इस दौरान उनकी लोकेशन को भी गुप्त रखा जाता है. हालांकि इस सबके लिए उन्हें मोटी रकम दी जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *