Alok Nath And Vinita Nanda

पिछले साल पटकथा लेखिका विनता नंदा ने बलात्कार के मामले में अभिनेता आलोक नाथ पर आरोप लगाया था. लेकिन हाल ही में अतिरिक्त सत्र जज एसएस ओझा ने पांच लाख रुपए के मुचलके पर आलोक नाथ को अग्रिम जमानत देते हुए कहा कि महिला प्रोड्यूसर ने निजी बदला लेने के लिए बलात्कार की शिकायत दर्ज कराई. बता दे अदालत ने यह फैसला बीते हफ़्ते सुनाया था, जिसे मंगलवार को अपलोड किया गया.

आदेश में न्यायाधीश ने कहा, साल 1980 की शुरुआत से आलोक नाथ की पत्नी आशु और शिकायतकर्ता मिस नंदा कॉलेज के दोस्त थे. दोनों मुम्बई में एक टेलीविजन धारावाहिक की प्रोडक्शन इकाई के साथ काम कर रहे थे जहां उनकी मुलाकात आलोक नाथ से हुई और तीनों में अच्छी दोस्ती हो गई. इसके बाद नाथ ने 1987 में आशु को शादी का प्रस्ताव दिया और दोनों ने शादी कर ली. उस दौरान हो सकता है कि शिकायतकर्ता को लगा हो कि वह अकेली हो गई हैं क्योंकि उसने अपना सबसे अच्छा दोस्त खो दिया था.

जज ने कहा, शायद आलोक नाथ के खिलाफ शिकायतकर्ता का आरोप उनके एकतरफा प्यार या निजी प्रतिशोध से प्रेरित हो सकता है. इसके अलावा, कोर्ट ने कहा कि विनता नंदा को पूरी घटना तो याद है लेकिन घटना की तारीख और महीना याद नही है. ऐसे में तमाम सबूतों को मद्देनज़र रखते हुए यह संभावना खारिज नहीं की जा सकती कि आरोपी को झूठे मामले में फंसाया गया हो.#MeToo आलोक नाथ

बता दें पिछले साल केवल हॉलीवुड ही नही बल्कि बॉलीवुड में चलें मी टू आंदोलन के दौरान पटकथा लेखिका विनता नंदा ने सोशल मीडिया पर आलोकनाथ का नाम लिए बिना ही अपना अनुभव साझा किया था. इसके बाद उन्होनें नवंबर में मुंबई के ओशिवारा पुलिस थाने में अभिनेता के खिलाफ साल 1998 में नशे की हालत में घर पर ही दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था. जिसके बाद आलोकनाथ पर धारा 376 के तहत मामला दर्ज किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *