अक्सर खुदाई के दौरान पुरानी और कीमती चीज़ें निकलकर आती है. वहीं, हाल ही में कर्नाटक में मैसूर से करीब 20 किमी दूर बसे अरासिनाकेरे की एक सूख चुकी झील से खुदाई के दौरान भगवान शिव की सवारी माने जाने वाले नंदी बैल की सैकड़ों साल पुरानी नंदी बैल की दो प्रतिमाएं मिली है. बता दें, यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर बेहद वायरल हो रही है. वैसे, स्थानीय लोग इसे सावन के महीने में बाबा भोलेनाथ का चमत्कार मान रहे हैं.

Lord Shiv Nandi
Lord Shiv Nandi

बता दें, सैकड़ों साल पुरानी इन प्रतिमाओं को लेकर सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि यहां के स्थानीय बुजुर्ग इस झील में नंदी की प्रतिमाएं होने की बात करते थे. दरअसल, जब कभी झील में पानी का स्तर कम होता था, तो कहा जाता था कि प्रतिमाओं का सिर नजर आता है. बताया जा रहा है कि इस वर्ष नदी के पूरे तौर पर सूख जाने बाद यहां के स्थानीय निवासियों ने  ही इस जगह पर  तीन से चार दिनों तक खुदाई करके ही इन प्रतिमाओं को ढूंढने का काम किया है. वैसे, इसकी खुदाई का काम अच्छी तरह से करने के लिए जेसीबी मशीन भी मंगवाई गई.

Nandi Statue
Nandi Statue

इस दौरान उन्होंने खुदाई का काम अच्छी तरह से करने के लिए जेसीबी मशीन भी मंगवाई. वहीं, करीब चार दिनों तक चली खुदाई के बाद झील की जमीन के अंदर दबी नंदी बैल की प्रतिमाओं को बाहर निकाल लिया गया है. वहीं, नंदी की प्राचीन प्रतिमाओं को लेकर दावा किया जा रहा है कि ये 16वीं  या 17 वीं शताब्दी की हो सकती हैं. इसके अलावा, इस बात की जानकारी लगने पर पुरातत्व विभाग के अधिकारियों की एक टीम भी वहां पहुंच चुकी है.

Lord Shiva nandi statue
Lord Shiva nandi statue

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *